search here

लाल किताब में बारहवां घर - 12 house in lal kitab




बारहवां घर हमारे दिमाग में चलने वाले विचारों से सम्बन्ध रखता है. ये हमारे घर की रौनक और खुशियों से सम्बन्ध रखता है यदि ये खराब है तो अछा घर भी वीराना जैसा लगता है. ये घर हमारे खर्चे से सम्बन्ध रखता है इससे ये पता चलता है के हम कंजूस है या खर्चीले। व् हमारा खर्च कब और कहाँ होगा।










इस  घर का कारक ग्रह बृहस्पति  है राहु भी इस घर का कारक होता है. इस घर में बुध नीच और शुक्र उच्च फल देता है. जीवन के अंतिम समय को भी ये घर बताता है.

ये घर हमारी नींद और आराम से भी सम्बन्ध  रखता है.खराब होने पर नींद नही आती व् अजीब से सपने आते है.ये घर   अच्छा  हो तो किसी अगर आशीर्वाद देते हो तो वह खरा होगा। ये घर खराब होने पर किसी को दिया शाप सच हो जाता  है

दिशाओं में देखें तो दक्षिण-पश्चिम दिशा से है हम स्त्री से या स्त्री अपने पति से कितना सुख प्राप्त करेगी ये घर बताता है.

शरीर में ये घर सिर और हड्डियों के बारे में बताता है. जानवरों में ये घर मछली, बिल्ली और चमगादड़ से सम्बन्ध रखता है.

दूसरे लोगो से हमें इज्ज़त मिलेगी या बदनामी व् पडोसी से हमारे सम्बन्ध कैसे होंगे ये 12 नम्बर घर से ही पता चलता है

No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें