search here

भाग्यांक 2 - Bhagyank - 2 numerology


भाग्यांक २ - भाग्यांक जानने के लिये, जन्म तिथि, जन्म माह तथा जन्म वर्ष की आवश्यकता होती है, जैसे यदि किसी का जन्म 18 - 2 - 1989 को हुआ है तो उसका भाग्यांक 1+8+2+1+9+8+9 = 38


3+8 =11 = 2 होगा, अब जानते है इसकी विशेषतायें।















भाग्यांक 2 का स्वभाव। Nature of Bhagyank 2 as per numerology

.

भाग्यांक 2 वाले व्यक्ति काफी धैर्यवान हो सकते है. भाग्यांक अंक दो वाले व्यक्ति बहुत भावुक होते है, अंक दो स्वभाव से उदार और विनम्र होते हैं कुछ अपने इस स्वभाव के कारण लोग इन्हें कमजोर समझ लेते हैं परंतु ऐसा नही है अंक दो अवसर आने पर अपनी योग्यता को दिखाने से पिछे नही हटते हैं. 



उनका मन व दिमाग शान्त रहता है। ये अपने कार्य को लेकर संवेदनशील तो होते है,परन्तु बहुत दिनों तक इनका किसी कार्य में मन नहीं लगता है।


ank shastra में भाग्यांक 2  वाले दूसरो से काम लेने की क्षमता रखते हैं तथा लोगों के मध्य सामंजस्य स्थापित करने का प्रयास करते हैं. ऐसे लोग अध्यापक, पत्रकार, एकाउण्टेन्ट, समुद्र यात्रा, शुगरमिल, कृषि विभाग, संगीत, अभिनय, दन्त चिकित्सा, जल सेना, फैसप डिजाइनिंग, माडलिंग आदि क्षेत्रों में आप-अपना कैरियर बन सकते है।





भाग्यांक 2 पर चन्द्र ग्रह का विशेष प्रभाव रहता है इस कारण इनका मन व दिमाग शांत रहता है तो कभी कभी बहुत उग्र भी हो सकता है. यदि भाग्यांक 2 वाले कोई व्यवसाय या कहीं पर निवेश करना चाहते है तो अपने जीवन साथी को साझेदार अवश्य बनाएँ, ऐसा करना बहुत फायदेमंद रहता है



numerology law के हिसाब से ऐसे लोगो में नेतृत्व करने की क्षमता होती हैइनमे एक सहज आंतरिक शक्ति और जागरूकता भी मौजूद होती है. ऐसे लोग सौन्दर्य प्रसाधन, पेट्रोल पम्प, कोल्ड्र डिंक, पानी, संगीत एकाडिमी, होटल, रेस्टोरेन्ट, कैरोनीन आयल, प्रकाशन, दूध की डेरी आदि व्यवसाय अपना सकते है।


इन्हें किसी बात का जल्द बुरा लग जाता है. भाग्यांक दो वालों के व्यवहार में संकोची, शर्मीलापन और अनिश्चित का भाव हो सकता है.







फैशन ही नहीं फायदा भी देता है कान छिदवाना - why ear piercing is good in hindi





No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें