मूलांक 3 - mulank 3 in numerology



मूलांक तीन के मालिक ग्रह बृहस्पति हैं अत: मूलांक तीन के व्यक्तियों पर गुरू ग्रह का बहुत प्रभाव होता है.  मूलांक 3 साहस, नेतृत्व के गुणों से युक्त एवं महत्वाकांक्षा से भरपूर होता है. जिनका जन्म किसी भी महीने की 3, 12, 21, या 30 तारीख़ को हुआ हो ,उनका मुलांक 3 होता है.














मूलांक 3 की विशेषताएँ | Characteristics of Moolank 3





mulank 3 के व्यक्तियों में महत्वाकांक्षी प्रवृत्ति, अनुशासन जैसे गुण होते हैं. ये लोग रक्षा, राजकीय, प्रशासनिक, पदाधिकारी अथवा किसी भी विभाग का अध्यक्ष हो सकते हैं. यह अपने कार्यों को लेकर alert रहते हैं और किसी भी भ्रांति से स्वयं को दूर रखने का प्रयास करते हैं.



मूलांक 3 शिक्षा के मामले में ये उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त करते हैं. पढ़ाई में आगे ही रहते है.


इन्हे विज्ञान व साहित्य में इनकी ज्यादा रूचि होती है। ये पढाई में सफल रहते हैं।





ऐसा देखा जाता है की आरम्भिक उम्र में इनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं रहती। लेकिन उम्र बढ़ने के साथ-साथ इनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आने लगता है। इनके आमदनी के एक से अधिक साधन हो सकते हैं। लेकिन धन सम्पत्ति को लेकर इन्हें कई बार मुकद्दमेंबाजी का भी सामना करना पड़ता है।





मूलांक 3 बड़ी खूबी है की ये बिलकुल स्पष्ट व् सरल लोग होते है और यही गुण इन्हे फायदा दिलाता है. सोसाइटी में किसी का बुरा नही करते इसी वजह से समाज में इज्जत मिलती है.



मूलांक तीन की कमियाँ | negative points  of Moolank 3




ये लोग अनुशाषण में बड़े सख्त होते है उसमे किसी भी तरह का ढीलापन बर्दाश्त नही करते इसी कारण इनके नीचे काम करने वाले कर्मचारी विरोधी बन जाते है. ऐसा देखा गया है के मूलांक तीन वाले जिद्दी भी होते हैं, इन्हें शत्रु और मित्र की पहचान नहीं होती, इस कारण इनके जीवन में गुप्त शत्रु भी हो सकते हैं.


तंत्रिका संस्थान के रोग, त्वचा सम्बंधित रोग, पीठ दर्द एवं पैरो में वात का दर्द,कटि-स्नायु शूल (sciatica) आदि रोग इन्हे परेशान कर सकते हैं।






अच्छे स्वभाव के होने के बावजूद कई बार कड़वी बात कह देते हैं. जिससे लोग इनके दुश्मन भी हो सकते हैं.


कभी-कभी इनके एक से ज्यादा विवाह के योग बनते हुए देखा गया है, जिनमें से पहला विवाह सदैव कष्ट देता हैं।


मूलांक तीन वाले व्यक्ति बहुत स्वाभिमानी होते है और किसी प्रकार का एहसान लेना इन्हें पसंद नही आता यह स्वतंत्र रहना पसंद करते हैं रोक टोक होने पर क्रोधित हो जाते है. ये अपने भाई बहनों के लिए काफी कुछ करते हैं, लेकिन इन्हें अपने भाई बहनों से अधिक सहयोग नहीं मिल पाता।



अपनी numerology report प्राप्त करने के लिए contact करें click here  

Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism