भाग्यांक 5 - bhagayank 5 in numerology



भाग्यांक 5 उदहारण -  यदि  किसी व्यक्ति का जन्म 2  अप्रैल 1961  है तो उस व्यक्ति का भाग्यांक इस
प्रकार ज्ञात करेंगे -  जन्म तारीख + जन्म माह + जन्म साल = भाग्यांक
2  + 4 + 1+ 9 + 6  + 1  = 23 
3 + 2  = 5  इस प्रकार इस व्यक्ति का भाग्यांक 5 होगा.









life path number 5 in hindi - bhagyank 5 hindi mai


भाग्यांक 5 वालों में दूसरों को प्रसन्न करनी की चाह हमेशा ही रहती है, इनके इस स्वभाव के कारण लोग इन्हें चाटुकार समझ बैठते हैं.इनके  पास कई प्रकार की मानसिक शक्तियां होती है. ये लोग अपने पैर कई जगह पसारने की कोशिश करते है  परन्तु एक ही कार्य पर मन लगाये तो बेहतर होगा। आपका मन घूमने-फिरने में ज्यादा लगेगा तथा प्रत्येक वाहन में बैठने की आपकी प्रबल इच्छा होगी।


आप कोई भी बात जल्दी कहकर भूल जाते है, उसके बाद दूसरे पर रौब झाड़ते है। आप-अपने मित्रों से बहुत प्रेम करेंगे तथा अपनी शक्ति से अधिक मदद करने के लिए भी तत्पर रहेंगे। आप-अपनी मधुर वाणी से सबको मोह लेते है, यह आपकी अदभुत क्षमता है।

आप-अपने शरीर का बहुत ज्यादा ख्याल रखेंगे इसलिए आप प्रौढ़ावस्था में भी जवान जैसे लगेंगे। आप-अपने शरीर से अधिक से अधिक काम लेने के बावजूद भी स्फूर्तिवान बने रहेंगे। आप-अपना सम्बन्ध समाज के उच्च लोंगो से बनायें रखें जो भविष्य में लाभकारी प्रतीत होगा।


भाग्यांक 5 वाले व्यक्ति यदि किसी से प्रसन्न होते हैं तो उस पर अपना सब कुछ लूटा सकते हैं परंतु जिस पर रूष्ट हो जाएं उसका सब कुछ नष्ट करने की चाह रखते हैं. भाग्यांक 5 वालों में संभवतः बहु - प्रतिभा और बहुमुखी प्रतिभा की अद्भुत विशेषता होती है.



 पर्यटन विभाग, टेलीफोन विभाग, बीमा क्षेत्र, बैंकिग क्षेत्र, गृह मन्त्रालय, गणित के अध्यापक, पोस्टमैन, सिंचाई विभाग, संगीत का क्षेत्र, एंकरिंग, राजनीति का क्षेत्र, खेल और मार्केटिंग से सम्बन्धित कैरियर का चुनाव कर सकते है।

अपनी numerology report प्राप्त करने के लिए contact करें click here  


Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

Hinduism