भाग्यांक 7 - bhagyank 7 in numerology


भाग्यांक जानने के लिये, जन्म तिथि, जन्म मास और जन्म वर्ष की आवश्यकता होती है। उदाहरणः माना किसी जातक का जन्म 6 नवम्बर 1943 को है, तो उस जातक का भाग्यांक निम्नलिखित तरीके से निकाला जा सकता है। जन्म तारीख, जन्म मास और जन्म वर्ष= भाग्यांक जन्म तारीख 6 जन्म मास, 11=1+1=2 जन्म वर्ष, 1943=1+9+4+3=17=8 तो इस प्रकार इस जातक का भाग्यांक= 6+2+8 = 16 = 7






 



life path number 7 in hindi



भाग्यांक 7- ये जातक कुशल तार्किक, स्पष्टवादी व अधिक वार्तालाप करने वाले होते है। ऐसे जातक रहस्यात्मक क्रियाओं को लिए होते है। ये अपना अलग अस्तित्व बनाने के प्रयास में लगातार मेहनत करते-रहते है। अतः इस अंक के चरित्र को समझने में काफी कठिनता आती है।



भाग्यांक 7 वालों में निर्णय लेने की अच्छी समझ होती है. भाग्यांक सात उसी कार्य को करने का प्रयास करता है जो उसके लिए लाभकारी और हितकारी हो सके भाग्यांक 7 वाला व्यक्ति विचारशील, सतर्क एवं बुद्धिमान होता है. यह लोग प्राय: अपनी ही धुन में मस्त रहते हैं. किसी भी कार्य को भली प्रकार से करने का प्रयत्न करते हैं उसे पूर्ण करने का सोचते हैं तथा अधिकतर इसमें सफल भी होते हैं.



 आपके जीवन में एक बात दिखाई देगी, यदि कोई परम्परा आप पर हावी होगी तो उसे तोड़ने में आप देरी नहीं करेंगे। कभी-कभी आप-अपना नियंत्रण(control) खो बैठेंगे, और परिणाम को सोंचे बगैर कार्य कार्य करने लगते है। यह स्थिति आपके लिए हितकर नहीं है। आपका जीवन जल की क्रियाओं से दुर्घटनाजनित हो सकता है, अतः सावधानी बरतें। 


धर्म संबंधी मामलों में में इन्हें आडंबर पसंद नहीं है यह धर्म को लाग लपेट से दूर रखते हैं. अपने कार्यों द्वारा वह धर्म को प्रगती के मार्ग पर चलाने का प्रयास भी करते हैं.



भाग्यांक 7 जल्द ही किसी पर विश्वास नही करता. लोगों के साथ संबंध न बना पाने के कारण भाग्यांक 7 वाले लोग एकांत प्रिय तथा इस कारण यह आत्मकेंद्रित और अंतर्मुखी बन सकते हैं और असहिष्णु हो सकते हैं.


कैरियर- योग शिक्षक, एग्रीकल्चर विभाग, पत्रकारिता, बीमा कम्पनी (insurance company), सर्जरी चिकित्सा, गुप्तचर विभाग, कृषि कार्य, तरल पदार्थो का व्यापार, आयुर्वेदिक दवाओं का व्यापार, बिजली की दुकान, मोटर पार्टस (motor parts) आदि से सम्बन्धित आप व्यवसाय करेंगे तो लाभप्रद साबित होगा।


 भाग्यशाली वर्ष- आपके जीवन में जब-जब 7, 2, 4 इन अंको का योग  आयेगा या फिर ये अंक आमने-सामने आयेंगे तो वह वर्ष आपके लिए शुभ रहेंगे। जैसे- 16वां , 25वां, 27वां, 31वां, 34वां, 43वां, 52वां, 56वां, व 70 वां ये वर्ष आपके लिए अनुकूल रहेंगे।








अपनी numerology report प्राप्त करने के लिए contact करें click here  

Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism