पढ़ा हुआ याद रखने के लिए वास्तु टिप्स


शैक्षिक सफलता अध्ययन कक्ष की बनावट पर भी निर्भर करती है। वास्तु ऊर्जा भवन की आत्मा है, जिसके सहारे भवन में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति का जीवन संवर उठता है चाहे वह अध्ययन का क्षेत्र हो या कोई अन्य। कुछ बच्चो या बड़ो को भी ये परेशानी रहती है के जो भी वो पड़ते वह अगले दिन भूल जाते है. वास्तु (vastu) में कुछ उपाय व् सावधानिया बताई गयी है जिन्हे अपनाकर आपको याद रखने में आसानी होगी









पढ़ा  हुआ याद रखने के  लिए वास्तु टिप्स ( vastu tips for memory in hindi)

click here to read in english - vastu tips for memory




  • पड़ते वक़्त मुख पूर्व या उत्तर की और करे 
  • अपनी टेबल पर एक पिरामिड यन्त्र (pyramid) रख सकते है 
  • कॉपी - किताब को तरीके से रखे इधर - उधर ने फैलाये 
  • खराब पेन - पेंसिल को हटा दे 
  • हरे या सफ़ेद रंग का टेबल कवर या पिन बोर्ड (pin board) उपयोग करने से फायदा होगा 
  • पड़ते वक़्त किसी टीवी , कंप्यूटर, म्यूजिक सिस्टम से कम से कम 5 फ़ीट दूर रहे इससे इलेक्ट्रो-मेग्नेटिक -रेज़ (EMF's) का प्रभाव कुछ काम होगा  व् पड़ा हुआ याद होग. 
  •  अध्ययन कक्ष के पर्दे भी हल्के हरे रंग, विशेषकर हल्के पीले रंग के उत्तम माने जाते हैं।
  • बीम के नीचे बैठकर न पढ़ें। अध्ययन कक्ष (study room) की दीवारों के रंग गहरे नहीं होने चाहिए। हरे, क्रीम, सफेद व हल्के गुलाबी रंग स्मरण शक्ति बढ़ाते हैं व एकाग्रता (focus) प्रदान करते हैं।
  • southwest कोण के west की तरफ बैठना चाहिए  इससे पढ़ा हुआ पाठ याद रहता है. 



Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

Hinduism