नामांक 2 - namank 2 in numerology



नामांक कि गणना के लिए कीरो पद्धति, सेफेरियल पद्धति तथा पाइथागोरस पद्धति का उपयोग किया जाता है, इनमें से किसी ने नौ अंक को स्थान दिया तो किसी ने स्थान नहीं दिया.

व्यक्ति के नाम के अक्षरों के कुल योग से बनने वाले अंक को नामांक कहा जाता है. अपना नामांक जानने के लिये सर्वप्रथम आप अपना नाम English मे लिखें. मान लें कि आपका नाम अमित गुप्ता  है. इसे AMIT GUPTA लिखें.











स्वाभावगत गुण विशेषता | Qualities of Namank 2

नामांक 2 चन्द्रमा से प्रभावित होता है जो विचारों, पैतृत्व और भावनाओं का जनक है। नामांक 2  के व्यक्ति का स्वभाव शांत, सहिष्णु होते है  नामांक 2 वाले बिलकुल साफ मन वाले होते हैं. कलात्मक तथा रोमांटिक प्रवृत्ति के होते हैं.

नामांक 2 वाले लोग नामांक 1 वालों की ही भांति अनुवेषक तथा खोजी प्रवृति के होते हैं और नए विचारों को जानने की जिज्ञासा भी खूब होती है.  मन से चंचल होने के कारण स्थाई होने का भाव कम ही होता है.ऐसे लोग कल्पनाशील होते  है

नामांक 2 वाले लोग दिमाग चलना ज्यादा पसंद करते है. नामांक दो वाले व्यक्ति सभ्य, सुशील, मृदुभाषी होते हैं और लोग भी इनके इस व्यक्तित्व से प्रभावित हुए बिना नहीं रह पाते.

नामांक 2 वालों में दूसरे के मन की बात जान लेने की  क्षमता होती है. अकेलापन इन्हें पसंद नही आता. अत्यधिक कल्पनाशील होते हैं इनमें आत्मविश्वास की कमी होती है और थोड़ी थोड़ी देर मे ही इनके विचारों मे परिवर्तन होते रहते हैं.


नामांक 2 वाले अत्यधिक संवेदनशील होते हैं. यदि इन्हें उचित माहौल ना मिलें तो ये शीघ्र निराश हो जाते है. अत: अपनी इस कमी को दूर करने का प्रयास करें.

नामांक 2 के लोगों को सपने देखना बेहद अच्छा लगता है। ऐसे में अपने मन को विचलित होने से रोकें एक काम मे मन लगाने का प्रयास करें. भावुकता से बचें, उतावलापन छोड़ें तथा आत्मविश्वास को बढ़ाएं.

शुभ रंग (Lucky Color): हल्का हरा और पीला, सिल्वर, बैंगनी, हल्का बैंगनी रंग।
शुभ रत्न (Lucky Gemstone): पन्ना और मोती ।







Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism