search here

राशि के अनुसार जानिये किसके साथ अच्छी रहेगी दोस्ती

rashi-ke-anusar-mitra-v-shatru


ज्योतिष में हर राशि की मित्र राशि व् शत्रु राशि होती है. राशि के हिसाब स्त्री हो या पुरुष, हमारी दोस्ती किस व्यक्ति के साथ कैसी रहेगी इस बात की जानकारी ज्योतिष से मिल सकती है. आइये जानते है अपनी नाम राशि के अनुसार जानिए आपकी दोस्ती किस राशि के साथ अच्छी रहेगी...






मेष- इस राशि का स्वामी मंगल है। शनि और मंगल एक-दूसरे से शत्रु भाव रखते हैं इसीलिए शनि की राशि मकर र कुम्भ से इनके विचार अलग हो सकते है. वृष एवं तुला राशि के लोगों के साथ इनकी मित्रता सामान्य रहती है। इसके अलावा अन्य राशि के लोगों के साथ इनकी मित्रता अच्छी रहती है।




वृष- इस राशि का स्वामी शुक्र है। शनि की मकर एवं कुंभ राशि वालों से इनकी दोस्ती अच्छी रहती है। बुध की मिथुन एवं कन्या राशि वालों से इनकी मित्रता सामान्य रहती है। शेष राशियों के साथ इनकी मित्रता आपसी तालमेल के आधार पर ही टिकी रहती है। 




मिथुन- इस राशि का स्वामी बुध है। आमतौर पर इनकी दोस्ती चंद्र की कर्क राशि के लोगों के साथ ठीक नहीं रहती है। बुध ग्रह चंद्र से शत्रुता का भाव रखता है। शेष सभी राशि के लोगों के साथ ये अच्छी तरह दोस्ती निभा लेते हैं।




कर्क- चन्द्र प्रभाव के कारण इस राशि के लोग बहुत ही विनम्र व्यवहार वाले होते हैं। सभी के साथ इनका रिश्ता बहुत अच्छा रहता है। ये अपनी ओर से सभी लोगों के प्रति प्रेम रखते हैं, लेकिन मिथुन एवं कन्या राशि के लोग इनके साथ अधिक सहज नहीं रह पाते हैं।




सिंह- इस राशि वाले लोग सभी से दोस्ती नहीं करते हैं, लेकिन जब दोस्ती करते हैं तो पूरी ईमानदारी से निभाते हैं। आमतौर पर तुला, मकर एवं कुंभ राशि के लोगों से इनकी दोस्ती ठीक नहीं रहती है।




कन्या- इस राशि का स्वामी बुध है। वैसे तो ये बुध प्रभावी लोग सबसे तालमेल बनाने में माहिर होते है यकीन कर्क राशि से कुछ अलग रहते है. इस कारण इनकी दोस्ती चंद्र की कर्क राशि के लोगों के साथ ठीक नहीं रहती है। अन्य सभी राशि के लोगों के साथ ये अच्छी तरह दोस्ती निभाते हैं।




तुला- इस राशि का स्वामी शुक्र है। शुक्र ग्रह मंगल और सूर्य से शत्रुता रखता है, इस कारण इन लोगों की दोस्ती सूर्य की सिंह राशि और मंगल की मेष-वृश्चिक राशि के लोगों के साथ ठीक नहीं रह पाती है। मकर और कुंभ राशि के लोगों से इनकी गहरी मित्रता रहती है।




वृश्चिक- मंगल इस राशि का स्वामी है। मंगल के शत्रु शनि की राशि मकर और कुंभ है। इन दोनों राशियों के लोगों से वृश्चिक वालों की दोस्ती अच्छी नहीं रहती है। वृष एवं तुला राशि के लोगों से इनकी दोस्ती गहरी रहती है।




धनु- मिथुन और कन्या राशि के लोगों के साथ धनु राशि के लोगों की दोस्ती अच्छी नहीं रह पाती है। मकर एवं कुंभ राशि के लोगों के साथ इनकी दोस्ती सामान्य रहती है। शेष सभी राशि के लोगों के साथ इनकी मित्रता अच्छी रहती है।




मकर एवं कुंभ- इन राशियों का स्वामी शनि है। शनि के शत्रु सूर्य और मंगल हैं। इनकी राशि सिंह, मेष और वृश्चिक है। इनमे वाद विवाद चलता रहता है. शेष सभी राशि के लोगों के साथ इनकी दोस्ती अच्छी रहती है।



मीन- इस राशि का स्वामी गुरु है। गुरु प्रधान लोगों  की मिथुन एवं कन्या राशि के लोगों से इनकी दोस्ती ठीक नहीं रह पाती है। मकर एवं कुंभ राशि से सामान्य मित्रता रहती है। शेष सभी राशियों से इनकी अच्छी मित्रता रहती है।

लेकिन यहाँ पर एक बात और जानने लायक है के जन्म लगन और जन्म राशि का भी मिला जुला असर वयक्ति पर रहता है इस कारण कभी कभी विचारधारा  अलग होते  हुए भी दोस्ती निभ जाती है 


राशि अनुसार नाम अक्षर

मेष- चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ

वृष- ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो

मिथुन- का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा

कर्क- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो

सिंह- मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे

कन्या- टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो

तुला- रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते

वृश्चिक- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू

धनु- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे

मकर- भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी

कुंभ- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा, श

मीन- दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची

No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें