तुला राशि की विशेषताएं - libra rashi in hindi

tula-rashi-character-in-hindi


तुला  राशि का स्वामी “शुक्र” ग्रह है. शुक्र ऐश्वर्यशाली व विलासपूर्ण ग्रह होता है. इस राशि का तत्व वायु व स्वरुप चर(चलायमान), रजोगुण प्रधान, त्रिधातु प्रकृति होती है. इस राशि के लोग संतुलित शरीर के सुन्दर, आकर्षक और देखने में शानदार होते है. मध्यम कद के गठे हुए शरीर के तथा खिलते हुए सांवले-सलोने रंग के अधिकतर होते है. सुन्दर आँखे होती है.चौड़ा मुख, चौड़ी छाती, बड़ी नाक, ललाट चौड़ा-चमकता हुआ तथा इन्हें सदैव प्रसन्नचित एवं मुस्कराते देखा जा सकता है. जानते है तुला राशि की और भी बातें







tula rashi characteristics in hindi


इस राशि वालों का गुस्सा ज्यादा देर तक नहीं हो पाता है.इस राशि वालों का बौद्धिक स्तर काफी ऊंचा होता है. इनकी कल्पना शक्ति बहुत ही अच्छी होती है. दूसरे के मन की थाह कैसे ली जा सकती है, ये बहुत अच्छी तरह से जानते है. किन्तु अपने मन की बात किसी को भी नहीं बताते है.



 Libra person उचित व जल्दी निर्णय लेना जानते  है. कई बार छोटी से छोटी बात भी इनके मस्तिष्क को बैचेन कर देती है. भले ही ये साधनविहीन हों, किन्तु इनके लक्ष्य सदा ही ऊँचे होते है. इंसानियत इनके चरित्र का अंग होती है. झूठी शान दिखाना इन लोगो को अच्छा नहीं लगता है.



ऐसे लोगों का रुझान न्याय एवं अनुशासन के प्रति अधिक होता है. इस राशि वाले कुशल व्यापारी, लोक व्यवहार में चतुर, कला तथा सौंदर्य प्रसाधन, सुन्दर वस्त्र, कलात्मक सजावट, राजनीति इन सबमें यह माहिर व अच्छे सुलझे व्यापारी होते है.

वकील, जज, आर्किटेक्ट, संपादन, लेखन, साहित्य इनके मनपसंद व्यवसाय होते है. तथा इनके लिए उपयुक्त भी रहते है.

 यह चतुर नीतिज्ञ तथा यश-अपयश, हानि-लाभ, जय-पराजय के बारे में खुद सोच विचार करते है व समझते है. मन में किसी भी तरह का भेदभाव नहीं रखते है.

ऐसा अक्सर देखा जाता है की इनका विवाह के बाद भाग्य उदय होने लगता है. वैवाहिक जीवन सुखमय व शांतिपूर्वक व्यतीत करने में सक्षम होते है. इनका शांतिप्रिय व्यवहार व हास्य प्रवृति सबको मोह लेती है.  तुला लग्न की लड़कियां बुद्धिमान सुन्दर और चतुर होती है. जीवन साथी से बहुत प्यार करती है.

प्रेम के मामले में वव्यव्हारिक, स्थिर, तथा गंभीर होते है. जिससे प्रेम करते है, उस पर सब कुछ न्यौछावर करने को तत्पर रहते है.

तुला वालों के लिए विदेश और समुंद्री यात्रा इनके लिए विशेष लाभप्रद होती है, इनकी सफलता का रहस्य सौम्य चेहरा सुडोल, विनम्र व गंभीर वाणी व सम्मोहक व्यक्तित्व होता है.

तुला राशि वालों का भाग्योदय:- 25वें वर्ष होता देखा गया है. इनके जीवन का 34, 43, 52, 61, 70 एवं 79वां वर्ष अत्यंत महत्वपूर्ण होता है.

नाम अक्षर:- रा, री, रु, रे, रो, ता, ती, तू, ते,

मित्र राशियां:- मिथुन, कुम्भ, मकर, धनु, कर्क,

शत्रु राशि:- सिंह,

राशि रत्न:- हीरा,

अनुकूल रंग:- क्रीम, सफेद, नीला,

सकारात्मक तथ्य:- आत्मविश्वासी, आकर्षक वाणी,

नकारात्मक तथ्य:- घमण्ड, ईर्ष्या,

Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism