search here

लाल किताब के अनुसार पांचवां घर - lal kitab mai panchva ghar in hindi

     


 लाल किताब के अनुसार पांचवां घर औलाद का घर है. लाल किताब के अनुसार हमें अपने बेटे से क्या मिलेगा ? यह बात इस घर से निर्देशित होती है. बेटी बाप को क्या देगी ? इस सवाल के उत्तर का संबंध इस पांचवे घर से नहीं है.  जहां से हवा और प्रकाश हमारे घर के अंदर आता है उस हिस्से का fifth house  से संबंध है. आइये जानते है लाल किताब के अनुसार पांचवा घर किन किन बातों से सम्बन्ध रखता है.











fifth huse in lal kitab astrology in hindi


हमारे अंदर कितनी ईमानदारी है ये घर बताता है. कुछ हद तक हमारी कमाई और उन्नत्ति का भी समबन्ध इस घर से होता है.

यदि panchva ghar  अच्छा हो तो जातक कम मेहनत में भी ज्यादा कमाता है. अशुभ होने पर वयक्ति ज्यादा मेहनत करने पर भी नही कमा पाता। दिशा के अनुसार ये घर पूर्व दिशा की दीवार का कारक है. यदि पांचवे घर में की शुभ ग्रह बैठा हो तो पूर्वी देववर पर उस ग्रह की चीज़े रखने से लाभ मिलता है.


पांचवा घर विद्या से सीधा sambandhit होता है. अपनी विद्या से हम कितना कमा सकते है ये घर बताता है. हमारी औलाद कितना कमाएगी वो भी ये घर बताता है.


lal kitab astrology के अनुसार इस घर से हमें ये भी पता चलता है के  कौन  से देवी-देवता हमारा कल्याण करेंगे. इस घर में बैठे ग्रह का असर हमारे औलाद के पैदा होने से बुढ़ापे तक बना रहता है. औलाद के सम्बन्ध में व् उसके मकान के बारे में इसी घर से पता चलता है. शरीर के अंगों में पेट का संबंध इस घर से होता है.


इस घर में बैठे बृहस्पति व् सूर्य ग्रहफल के होते है इनका उपाय नही होता। यदि इनका उपाय करना हो तो दूसरे ग्रह का सहयोग लेना होता है.


No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें