search here

वास्तु द्वारा ठीक करें गलत टॉयलेट के दोष


कभी कभी पुश्तैनी मकानों में रहने वाले लोग या अपार्टमेंट (apartments) में रहने वाले लोग पाते है उनके घर में टॉयलेट (toilet) सही जगह नही है. लेकिन उसे शिफ्ट करने नामुमकिन है. इसके कुछ भी कारण ह सकते है. लेकिन उसे बिना शिफ्ट किये उसकी negativity कैसे  खत्म की जाए आइये बताते है. 







उत्तर- पूर्वी टॉयलेट (north-east toilet)- ये शायद वास्तु के एक सबसे बड़े दोष में से एक होगा। अब यदि आप इसे सहित करने की स्थिति में नही है. तो आप इसके अंदर एक छोटा सा पौधा रख सकते है. इसके बाद बाहर की दिवार पर पूर्व या उत्तर की तरफ एक 4 ft by 2 ft का शीशा लगाएं। मुरझाने के बाद पौधे को बदलते रहें। 


दक्षिण-पश्चिम टॉयलेट (south-west toilet) - ये भी गंभीर परिणाम देता है. स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याऐ आ सकती है. इसके लिए या तो उत्तर-पूर्व में एक गहरी टैंक का निर्माण कराये। जो टॉयलेट बना पड़ा है उसका फर्श ऊँचा करें। पिरामिड यन्त्र रखे टॉयलेट के दक्षिण-पश्चिम कोने पर. टॉयलेट के अंदर एक विंड चाइम लगा सकते है. क्यूंकि मेटल तत्व (metal element) नकरात्मक पृथ्वी तत्व का प्रभाव काम करेगा।


मुख्य दरवाज़े के सामने टॉयलेट ( toilet in the front of main door) - हो सके तो मैन गेट और टॉयलेट के बीच में कुछ हरे-भरे पौधे रख दे.


पश्चिम मुखी - टॉयलेट की शीट (toilet seat) पश्चिम मुखी होने पर स्वस्थ्य सम्बन्धी परेशानियाँ आती है. ऐसे में पूर्वी दीवार  पर एक आईना लगाएं 




वास्तु शास्त्र में स्वस्तिक





No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें