अप्रैल में जन्मे लोगों का स्वभाव - nature of persons born in April in hindi


अप्रैल महीने में जन्मे लोग मंगल ग्रह से प्रभावित होते  है. इनकी भौहें भरी हुई और बाल थोड़े लहराते हुए होते है जिनमे वक़्त  के साथ  परिवर्तन आ सकता है. ये ज्यादा डिप्लोमेटिक नही होते। जिस जगह पर उत्साह और एनर्जी की जरूरत होती है वहाँ इन्हे मज़ा आता है. इनकी गर्दन लम्बी व् माथे पर कोई तिल या निशान हो सकता है. आइये जानते है अप्रैल महीने में जन्मे लोगो का स्वभाव 








ank shastra april mai janme logo ka svbhav


अप्रैल महीने में जन्मे लोग मेष राशि के असर में रहते है हालाँकि लगन व् जन्म राशि भी इन गुणों में चेंज लाती है. ये लोग साहसी और स्वतंत्र स्वभाव के होते है रिस्क लेने से नही घबराते। 

ऐसा देखा जाता है के April born  लोग कोई कार्य जल्दी स्टार्ट  कर देते है लेकिन यदि उसमे time लग रहा है तो ये अशांत हो जाते है. जिससे इन्हे बचना चाहिए. 



as per numerology जब  ये थोड़े mature हो जाते है तब ये दुसरो की needs को समझने लगते है जो इन्हे लीडर बनाता है. इन्हे ऐसे काम करना ज्यादा suit करता है जिसमे कोई टारगेट achieve करना हो जैसे sports, salesman और farmer. 

ank shastra के अनुसार जब कोई इन्हे challenge करता है तो डरते नही आगे ही बढ़ते है. लेकिन इनका अड़ियल रवैया परेशानी दे सकता है अगर ये अपने लोगों की सलाह पर ध्यान नही देते. इन लोगो को अकेला बढ़ने के बजाए साथ में बढ़ना चाहिए. 

ये लोग ज्यादा डिप्लोमेटिक तो होते नही इसी कारण ये बहस नही करते अपने आप को बहस से अलग कर लेते है. लेकिन अगर यही बहस उग्र हो जाए तो ये सबसे आगे खड़े होते है और यही इनका स्वभाव है. ये लोग एक जन्मजात क्षत्रिय होते है. 


negative mesha में जन्म जात  अहंकार देखा जाता है जो इन्हे किसी भी तरह की relationship में दिक्कतें देता है.

ये अपने आइडियाज को लेकर बड़े passionate होते है. और उन्हें मनवाने के लिए सारी तरकीब लगा लेते है. 

ये लोग अपने hairstyle और अपनी लुक को लेकर बड़े सजग रहते है. ऐसा देखा जाता है के फ्री टाइम में ये अपने बालों में कंघी बहुत करते है और अलग अलग look बनाकर देखते है. 

ये character से ही romantic होते है, लोग इनकी तरफ attract आराम से होते है. ये अपने पार्टनर का ख्याल भी अच्छे से रखते है. 






Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

Hinduism