search here

लाल किताब में सूर्य दूसरे भाव में - sun in second house in lal kitab astrology

सूर्य दूसरे भाव में - sun in second house 


लाल किताब के अनुसार सूर्य दूसरे खाने में अपनी पत्नी के कारण सम्बन्धियों से झगड़ा देता है. जबकि अन्य मामलों में यहाँ बैठा सूर्य अच्छे फल ही देता है. ऐसे जातक को पत्नी के झगड़ों से दूर रहना चाहिए। ऐसा जातक काई सुख भोगता है व् प्रगति भी बहुत करता है. ससुराल भी अच्छी मिलती है. 



ऐसा जातक किसी धर्म स्थान का भी निर्माण कराता है. अपने सगे संबंधियों का भी लाभ करता है. जातक को अपनी जबान गंदी नही करनी चाहिए।किसी से भी कच्चा अन्न मुफ्त में नही लेना चाहिए।





No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें