search here

कितने प्रकार की होती है भाग्य रेखा और उसका मतलब - what is telling fate line

what is telling fate line




सामुद्रिक शास्त्र  में बताया गया है कि भाग्य रेखा लगभग सात प्रकार की होती है और उनका अलग अलग प्रभाव होता है। इसी बनावट के आधार पर palmist भाग्य के बारे में बताते है. आइये जानते है भाग्य रेखा के प्रकार और उनका फल 





ऊपर हाथ के चित्र में जो लाल रेखा है उसे भाग्य रेखा (fate line) कहते है 

types of fate lines / bhagya rekha 


deep fate line meaning 


1.गहरी रेखा : अगर हाथ में भाग्य रेखा गहरी है तो ये इस बात का इशारा है के आपको पैतृक सम्पति मिल सकती है और बड़े बुजुर्गो का साथ मिलता है.

light fate line meaning 


2.हलकी  रेखा  : भाग्य रेखा अगर हलकी है तो ये इस बात का संकेत है आपको भाग्य भरोसे बैठना नही चाहिए। कर्मों पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए. इसी प्रकार अन्य रेखाओं एवं पर्वतों के प्रभाव से भी परिणाम बदल सकता है।

divided fate line meaning

 

3.विभाजित रेखा : भाग्य रेखा अगर दो भागों में विभाजित हो या टूटकर अंग्रेजी के Y की तरह दिखे तो यह कश्मकश की स्थिति बनाता है यानि कही न कही आपको जिस उम्र में टुटा हुआ दिखाती है वहाँ पर दिक्कत आ सकती है. और साथ ही आपका double mind होना दिखाती है.

zigzag fate line meaning


4.आड़ी तिरछी रेखा : हथेली में भाग्य रेखा अगर आड़ी तिरछी हो तो ये जिन्दग़ी में उत्तार चढ़ाव दिखाती हैं। जीवन में संघर्ष और मुश्किलों को पार करके ही अपने भाग्य का फल प्राप्त हो सकता है.

chained line meaning 

5 .जंजीरदार या लहरदार रेखा : भाग्य रेखा जंजीरदार या लहरदार हो तो यह इस बात का संकेत है कि आपके कार्यो में उतार चढ़ाव बना रहेगा। कई बार रेखा का कुछ भाग में जंजीर होती है ज उस उम्र के दौरान परशानी दिखती है. इसमें  परेशानी आती रहेगी जब तक की ये चैन खत्म नही हो जाती। 

Invisible fate line or no fate line in  hand 


6 .अदृश्य रेखा : जी हाँ कुछ हाथ ऐसे भी होते है जिनमे भाग्य रेखा ही नही होती. लेकिन इसमें घबराने वाली बात नही है, जिनकी हथेली में भाग्य रेखा नहीं होती है उनका भाग्य अन्य रेखाओं के आंकलन के आधार पर ज्ञात किया जाता है। 



No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें