search here

राहु भी करवाता है प्रेम विवाह - Yogas of Rahu for love marriage


वैसे तो कुंडली में भावों और उनके स्वामियों से लव मैरिज के बारे में देखा जाता है लेकिन कभी कभी राहु भी प्रेम विवाह करवाता है.आइये जानते है राहु से बनने वाला प्रेम विवाह योग 









 राहु योग से प्रेम विवाह  (Yogas of Rahu for love marriage)


 राहु का संबन्ध जब भी विवाह भाव यानि के 7वें भाव  से होने पर व्यक्ति लीक या परम्परा से हटकर शादी करने की  सोचता है.



 यदि  पंचम भाव के स्वामी की उच्च राशि में राहु या केतु स्थित हों तब भी व्यक्ति के प्रेम विवाह के योग बनते है. जैसे यदि पांचवे भाव का स्वामी शुक्र है और यदि शुक्र की उच्च राशि यानि किए मीन में राहु हो तो प्रेम विवाह हो सकता है. 



 जब janm kundli  में मंगल का शनि अथवा राहु से संबन्ध या युति हो रही हों तब भी प्रेम विवाह कि संभावनाएं बनती है. तो व्यक्ति के अपने परिवार की सहमति के विरुद्ध जाकर विवाह करने की संभावनाएं बनती है.




यदि जन्म कुण्डली में सप्तमेश व शुक्र पर शनि या राहु की दृ्ष्टि हो, उसके प्रेम विवाह करने की सम्भावनाएं बनती है. 





2 comments:

Jasmeet Chawla said...

My date of birth is 16 july 1982 ,time 11:40 am can u tell me if i will have luv marriage

prateek gupta said...

yes

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें