search here

हथेली में शनि पर्वत से जाने अपना भाग्य - mount of Saturn


सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार वयक्ति की हथेली में शनि पर्वत (Mount of Saturn)  मध्यमा उंगली (middle finger)  के बिल्कुल  नीचे माना जाता है। ऐसा माना जाता है के  व्यक्ति के हाथ में यह पर्वत विकसित होता है वे बहुत ही भाग्यशाली होते हैं, मान सम्मान पाता है. अगर  हथेली पर भाग्य रेखा बिना कटे हुए इस पर्वत को छूती है तो जिंदगी में काई तरक्की मिलती है. आइये जानते है और क्या क्या बता है शनि पर्वत 









शनि पर्वत  (Mount of Saturn)


 विकसित - शनि पर्वत बड़ा हुआ होने से अपने कामो को पूरी मेहनत से  करता है. लेकिन अकेले रहते है किसी से आसानी से तालमेल नही बैठा पाते। ऐसे लोग  आस पास से बिल्कुल कट कर रहना पसंद करते हैं और अपने आप को ही नुकसान पहुंचाते है. लेकिन भाग्य साथ देता है. 


सपाट  - जिनकी हथेली में शनि पर्वत बिलकुल सपाट होता है वे वक़्त बर्बाद करते है. लेकिन  फिर भी  सफलता और सम्मान प्राप्त करते हैं। 



ज्यादा विकसित - कभी कभी ऐसा देखा जाता है के हथेली में शनि पर्वत बहुत अधिक उन्नत या उभरा हुआ होता है  वे अत्यंत भाग्यवादी होते हैं और अपने भाग्य के बल पर ही जीवन में तरक्की करते हैं। 



रेखाएं -     इस पर्वत पर बहुत सारी  रेखाएं है तो  व्यक्ति में साहस की कमी और काम-वासना के प्रति आकृष्ट दर्शाता है.  





No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें