लोटस से बनाये बिगड़े हुए संबंध - lotus crystal benefits in vastu-fengshui



फेंगशुई के प्रोडक्ट्स में एक प्रचलित चीज़ है लोटस क्रिस्टल (lotus crystal). कुछ वास्तु शास्त्री इसे लक्ष्मी माता से जोड़ देते है और कुछ बुद्धि से. वैसे तो क्रिस्टल पृथ्वी तत्व का प्रतीक होता है जो की स्थायित्व से संबंध रखता है. let see कैसे इस्तेमाल करें lotus crystal 








how to use lotus crystal 


क्रिस्टल बहुत शक्तिशाली गैजेट्स माने जाते है. ये किसी भी स्थान की ऊर्जा को 100 गुणा से भी ज्यादा बढ़ा देते है. एक activate क्रिस्टल को स्थापित करने से positive energy अपने आप बढ़ने लगती है. अब बात आती है इसे  रखे कैसे ? वैसे तो इसे ऐसी जगह रखना चाहिए जहाँ इस पर सूर्य की रौशनी पड़े क्यूंकि इसमें से होकर जब सूर्य की रौशनी निकलती है तो अच्छी ऊर्जा का संचार होता है. इसलिए खिड़की के पास रखना अच्छा रहता है. 



लेकिन यदि आप रिलेशनशिप्स में परेशानी महसूस कर रहे है या कुछ हद तक दुर्भाग्य से घिरे हुए है तो ऐसे में इसे घर के दक्षिण-पश्चिम (225 डिग्री) पर रख सकते है. 


इसके अलावा आप इसे अपने ऑफिस में भी रख सकते है, अच्छी सफलता देता है. इसमें खुली पंखुड़ी वाला lotus क्रिस्टल ही लाना अच्छा रहता है. नार्थ-ईस्ट दिशा में इसे नहीं रखना चाहिए. 




अनचाहे व्यक्ति से उपहार ना लें



Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism