search here

वास्तु शास्त्र में पूर्व दिशा का महत्व - vastu direction for social association

वास्तु शास्त्र में पूर्व दिशा का महत्व - vastu direction for social association


वास्तु शास्त्र में हर दिशा व् हर कोण हमारे जीवन से किसी न किसी तरीके से जुड़ा होता है. आज बात करते है हमारे समाजिक जुड़ाव से कौन सी दिशा का संबंध होता है. यदि हम समाज में अपनी पहचान या कोई सरकारी पहचान बनना चाहते है तो किस दिशा को इम्प्रूव करना चाहिए. 











vastu direction for social association 




वास्तु के हिसाब से हमारी purav disha  समाजिक जुड़ाव से संबंधित है, यदि हम सोशल associations से जुड़ना चाहते है या सरकारी काम में आगे बढ़ना चाहते है तो पूर्व दिशा को improve करना  चाहिए.  


east me toilet होने से समाजिक परेशानियां आ सकती है. इस दिशा में braas ka suraj लगाना चाहिए इससे समाज में रुतबा बढ़ता है. vastu में इसे society के बड़े लोगों से संबंध बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. east direction responsible for connections with influential persons 









फायदे की जगह नुकसान भी कर सकता है मनीप्लांट - where to place money plant as per vastu shastra


बेबी प्लानिंग - इन दिशाओं में नहीं हो बेडरूम - vastu tips for conceive


फेंगशुई के पांच तत्व कौन से है - five elements of fengshui in hindi


मंदिर के पास घर होना चाहिए या नही - house near temple as per vastu shastra


No comments:

Post a Comment

astro services

सलाह ले लिए contact करें यहाँ click करें