कुंडली के अनुसार मोती किसे पहनना चाहिए आइये जानते है


pearl-stone-astrology-in-hindi



ज्योतिष के रत्न विज्ञान में मोती (pearl) का बहुत महत्व है। ये चन्द्रमा का रत्न माना जाता है. कुंडली में  चंद्रमा कमज़ोर  होने पर मोती पहनने की सलाह दी जाती है मगर हर व्यक्ति के लिए ये नही होता  है। ज्योतिष के अनुसार कब  पहनना चाहिए मोती रत्न आइये जानते है. 











when  to wear pearl stone in astrology 



जन्म कुंडली जिनमें चंद्रमा शुभ स्थानों (केंद्र या‍ त्रिकोण) का स्वामी होकर निर्बल हो, ऐसे में ही मोती पहनना लाभदायक होता है। नहीं तो मोती मृत्यु का कारक भी बन जाता है. 




conditions for wear pearl  

लग्न कुंडली में चंद्रमा शुभ स्थानों का स्थायी हो मगर,

1. 6, 8, या 12 भाव में चंद्रमा हो तो मोती पहनें।

2. नीच राशि (वृश्चिक) में हो तो मोती पहनें।

3. चंद्रमा राहु या केतु की युति में हो तो मोती पहनें।

4. चंद्रमा पाप ग्रहों की दृष्टि में हो तो मोती पहनें।

5. चंद्रमा क्षीण हो या सूर्य के साथ हो तो भी मोती धारण करना चाहिए।

6. चंद्रमा की महादशा होने पर मोती अवश्य पहनना च‍ाहिए।

7. चंद्रमा क्षीण हो, कृष्ण पक्ष का जन्म हो तो भी मोती पहनने से लाभ मिलता है।

Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

Hinduism