वैदिक ज्योतिष और राहु - rahu in vedic astrology


वैदिक ज्योतिष और राहु - rahu in vedic astrology



आज बात  करते है राहु की, राहु कोई ग्रह नही है इसका कोई शेप या बॉडी नही मानी जाती. ये सिर्फ दो  बिंदु है  जिसे moon orbit कहते है, उसे काटने वाले. एक को राहु और दूसरे को केतु कहते है. हालाँकि एस्ट्रोलॉजी में राहु और केतु को बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण माना गया है. 









rahu in vedic astrology 


राहु और केतु दोनों ही कार्मिक ग्रह माने गए है, इनका अपना कोई घर नही होता। जिस राशि में ये बैठे होते है उसी का फल ये दे देते है. हालाँकि राहु का स्वभाव शनि ग्रह के सामान माना गया है. 


nature of rahu in hindi 



राहु का सम्बन्ध बॅटवारे, मुक्ति (किसी भी चीज़ से), चमक, उमंग और बहुत ज्यादा समझदार जैसी बातों से होता है. इसे एक रॉयल planet भी माना जाता है. 


इसके अलावा जेल, ज़हर, चोरी, घाटा, किसी जरूरतमंद महिला की तरफ झुकाव ये भी राहु के लक्षण है. 


diseases by rahu  


अचानक होने वाली परेशानियां जैसे accidents, heart attack , लकवा ये सब राहु के कारण होते है. 


education by rahu 



अच्छा राहु जातक को brilliant बनाता है. इसके अलावा उसके subjects radiology, photography, अंतरिक्ष ज्ञान आदि में अच्छा नाम कराता है. 



इसके अलावा rahu planet को धोखा, नानी, दादा, दंगा, perverted sex  और drugs जैसी आदत का शिकार से सम्बन्धित माना जाता है. 




Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism