राहु-केतु का फल वृषभ-वृश्चिक राशि में

राहु-केतु का फल वृषभ-वृश्चिक राशि में , rahu in Taurus ketu in Scorpio



आज चर्चा करते है यदि जन्म लग्न कुंडली में राहु वृषभ और केतु वृश्चिक राशि में हो तो पिछले जन्म से क्या सम्बन्ध हो सकता है साथ ही इस जन्म में व्यक्ति कैसा हो सकता है. 








rahu in Taurus ketu in Scorpio  


अपनी past life में ऐसा जातक बहुत ज्यादा बुरे कामो में लिप्त रहा होता है, ऐसा माना जाता है के अपनी योग्यता का बहुत गलत उपयोग ऐसे व्यक्ति ने किया होगा. sex life बिगड़ी हुई रही होगी ऐसा माना जाता है. साथ ही सज़ा भी मिली होती है. 



अपनी इस जिंदगी में ऐसे लोग लाइफ की जरूरतों को भली भांति समझते है. थोड़े डिप्लोमेट होते है. तीर्थ यात्राएं बहुत करते है और holi places पर जाकर अपना ज्ञान बढ़ाने की कोशिश करते है. शांति और आराम से जीने के लिए ये लोग पूरी मेहनत करते है और अपने कर्मों को भी सुधारते रहते है. 













Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

Hinduism