दक्षिण दिशा के टॉयलेट का प्रभाव - south toilet in vastu shastra

दक्षिण दिशा के टॉयलेट का प्रभाव - south toilet in vastu shastra


आज चर्चा करते है दक्षिण दिशा के टॉयलेट की, क्या असर मिलेगा घर में रहने वाले लोगों को यदि दक्षिण दिशा में toilet आ जाये तो आइये जानते है. 











effects of toilet in south zone as per vastu shastra


दक्षिण दिशा अग्नि से जुडी दिशा मानी जाती है, अग्नि का कार्य शारीरिक ऊर्जा, पोषण, मंगल कार्य, गर्भ, wealth, नाम आदि. उनमे से जिस zone में टॉयलेट आ जाये उससे सम्बन्धित परेशानी निश्चित ही आएगी. 


dakshin disha me toilet - अब zone के हिसाब से बताता हूँ, दक्षिणपूर्व - ये कोण वेल्थ, नगद धन, से जुड़ा होता है इस कोण में टॉयलेट आने से कई बार अपने ही पैसे या प्रॉपर्टी से कोई फायदा नही होता. अभी recently एक वास्तु visit में मैंने देखा के कई सारी प्रॉपर्टी होने के बाद भी उन property से कोई फायदा नही हो रहा. साथ ही बिज़नस उधार में भी दिक्कत रहती है हालाँकि entrance  वास्तु के मुख्या और भल्लाट दोनों जोन में थी तो पैसे की आवक में कोई कमी नही है. 



दक्षिणपूर्व-दक्षिण = ये कोण आपकी शारीरिक क्षमता, courage, साहस से जुड़ा होता है, इसमें टॉयलेट आने से व्यक्ति में साहस नही होता और आलस से भरा  रहता है. साथ ही ऐसा  देखा जाता है के स्त्री में गर्भ धारण की शक्ति में कमी आती है. वशिष्ठ संहिता के अनुसार के कोण रतिमंदिर या श्रृंगार कक्ष के लिए भी था तो सम्बन्धत महिलाओं से जुड़ा हुआ कोण है.



दक्षिण = इस कोण का कार्य है व्यक्ति को अपनी limits के बारे में बताना, , प्रसारम, name एंड fame, relaxation of mind.... किसी गृह में सबसे perfect room यही होता है, इधर टॉयलेट आने पर कई बार व्यक्ति बहुत ज्यादा संकुचित हो सकता है, अपने ही मन की हदबन्दी करके बैठ जाता है. किसी न किसी वजह से बदनाम होता है, इसके अलावा सब कुछ होने पर भी नाम नही होता. इसके अलावा दिमागी शांति नही रहेगी no chance 

Comments

services

Popular posts from this blog

5 सबसे बड़े वास्तु दोष- 5 biggest vastu dosh

दुकान व शोरुम के लिए वास्तु टिप्स - vastu tips for shop and showroom in hindi

कैसे और क्यों उपयोग करते है घोड़े की नाल - black horse shoe benefits in hindi

from the web

loading...

Hinduism